Manoj Mukund Naravane

भारत-चीन के मध्य सीमा पर तनातनी के बीच सेना की तैयारियों का जायजा लेने लद्दाख पहुंचे सेना प्रमुख जनरल एम एम नरवणे ने कहा कि हम हर चुनौती का सामना करने के लिए तैयार हैं। सेना प्रमुख नरवणे ने कहा कि अभी वहां (LAC) हालात काफी नाजुक बने हुए हैं और एहतियात के तौर पर सेना को तैनात किया गया है। साथ ही आर्मी चीफ ने यह भी कहा कि उन्हें पूरा यकीन है कि इस सीमा विवाद को बातचीत से सुलझाया जा सकता है।

सेना प्रमुख मनोज मुकुंद नरवणे ने कहा कि कल लेह पहुंचने के बाद मैंने अलग-अलग जगहों पर ऑफिसर्स से बात की और स्थिति का जायजा लिया। जवानों का मनोबल बहुत ऊंचा है वो हर चुनौती का सामना करने को तैयार हैं। मैं यकीनन कह सकता हूं कि हमारे जवान न केवल भारतीय सेना बल्कि देश का भी नाम रोशन करेंगे।

एमएम नरवरणे ने बताया कि वह गुरुवार को लेह पहुंचे थे। वहां उन्होंने ऑफिसर्स और जेसीओ से बात की। देखा कि जवानों का मनोबल काफी ऊंचा है। नरवणे ने आगे कहा कि जवान हर स्थिति को तैयार हैं। वह बोले, ‘मैं इस बात को फिर दोहराना चाहूंगा कि हमारे ऑफिसर्स, जवान दुनिया में सबसे बेहतर है. सिर्फ सेना नहीं बल्कि पूरे देश को इनपर गर्व है।’

समाचार एजेंसी एएनआई के मुताबिक, सेना प्रमुख मनोज मुकुंद नरवणे ने कहा कि कल लेह पहुंचने के बाद मैंने अलग-अलग जगहों पर ऑफिसर्स से बात की और स्थिति का जायजा लिया। जवानों का मनोबल बहुत ऊंचा है वो हर चुनौती का सामना करने को तैयार हैं। मैं यकीनन कह सकता हूं कि हमारे जवान न केवल भारतीय सेना बल्कि देश का भी नाम रोशन करेंगे।

पैंगोंग के दक्षिणी इलाके में हुए 29-30 अगस्त को सेना की कार्रवाई के बाद उनका यह दौरा अहम माना जा रहा है। इधर पैंगोंग के उत्तर में भी तनाव बढ़ा है। दोनों देशों की सेनाएं बात कर तनाव घटाने की कोशिश में जुटी हैं, लेकिन बॉर्डर टेंशन बढ़ी है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *