Nitish Kumar PTI

अरुणाचल प्रदेश में जनता दल यूनाइटेड (जेडीयू) के सात में से छह विधायक पार्टी से बागवत करते हुए बीजेपी में शामिल हो गए हैं। यह राज्य में सीएम नीतीश कुमार के लिए ये बड़ा झटका है। उनके पास सिर्फ एक विधायक बचा है। वहीं, पीपल्स पार्टी ऑफ अरुणाचल (पीपीए) के इकलौते विधायक कारदो निग्योर भी बीजेपी में चले गए हैं। लिकाबल से विधायक निग्योर को पीपीए ने पार्टी विरोधी गतिविधियों के लिए निलंबित किया हुआ था।

पिछले दिनों बिहार में बीजेपी, हम और वीआईपी की मदद से नीतीश कुमार मुख्यमंत्री बने हैं। अब नीतीश कुमार की पार्टी के छह विधायक अरुणाचल में बीजेपी में शामिल हो गए। ऐसे में इस घटनाक्रम का दोनों पार्टियों के रिश्तों पर क्या फर्क पड़ेगा, ये भी देखना होगा। अरुणाचल प्रदेश के प्रदेश बीजेपी अध्यक्ष बीआर वाघे ने कहा, ‘‘ हमने पार्टी में शामिल होने के उनके पत्रों को स्वीकार कर लिया है।’’

पंचायत और नगर निगम चुनाव के नतीजों की घोषणा से एक दिन पहले यह खबर सामने आई है। अरुणाचल प्रदेश विधानसभा की ओर जारी बुलेटिन के अनुसार, रमगोंग विधानसभा क्षेत्र के तालीम तबोह, चायांग्ताजो के हेयेंग मंग्फी, ताली के जिकके ताको, कलाक्तंग के दोरजी वांग्दी खर्मा, बोमडिला के डोंगरू सियनग्जू और मारियांग-गेकु निर्वाचन क्षेत्र के कांगगोंग टाकू बीजेपी में शामिल हो गए हैं।

अरुणाचल प्रदेश में जनता दल यू में काफी समय से उठापटक चल रही थी। जेडीयू ने 26 नवम्बर को सियनग्जू, खर्मा और टाकू को ‘‘पार्टी विरोधी’’ गतिविधियों के लिए कारण बताओ नोटिस जारी किया था और उन्हें निलंबित कर दिया था। इन जेडीयू के छह विधायकों ने इससे पहले पार्टी के परिष्ठ सदस्यों को कथित तौर पर बताए बिना तालीम तबोह को विधायक दल का नया नेता चुन लिया था। बता दें कि अरुणाचल प्रदेश में 2019 में विधानसभा के चुनाव हुए थे और राज्य में भाजपा की सरकार है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *