Shashi Tharoor

वरिष्ठ कांग्रेसी नेता एवं सांसद शशि थरुर ने रविवार को भारत बायोटेक की ‘कोवैक्सीन’ के आपात इस्तेमाल को भारतीय औषधि नियंत्रक की ओर से दी गयी मंजूरी को अपरिपक्व निर्णय बताते हुए चिंता जतायी।

शशि थरुर ने ट्वीट कर कहा, “ कोवैक्सीन ने परीक्षण का तीसरा चरण पूरा नहीं किया है। इसकी मंजूरी अपरिपक्व निर्णय है और खतरा हो सकता है। डॉ. हर्षवर्धन, कृपया स्पष्ट करें।”

उन्होंने कहा कि ड्रग नियामक की सब्जेक्ट एक्सपर्ट कमेटी ने एक जनवरी को कोवैक्सीन के आपात इस्तेमाल की अनुशंसा से इंकार किया था, लेकिन आज ‘कोवैक्सीन’ के साथ ही सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया की ‘कोविशील्ड’ के आपात इस्तेमाल की सिफारिश को मंजूरी दे दी गयी।

केंद्रीय मंत्री रहे थरुर ने कहा , “कोवैक्सीन के इस्तेमाल को उसके परीक्षण पूरे होने तक टालना चाहिए। इस बीच भारत एस्ट्राजेनेका वैक्सीन के साथ टीकाकरण शुरू कर सकता है।”

सभी को निशुल्क कोविड टीका लगाए सरकारः कांग्रेस

कांग्रेस ने कहा है कि सरकार को देश के सभी नागरिकों की जान की परवाह करते हुए उन्हें कोविड का निशुल्क टीका लगाने की व्यवस्था करनी चाहिए। कांग्रेस प्रवक्ता गौरव बल्लव ने रविवार को यहां संवाददाता सम्मेलन में एक सवाल पर कहा कि वैज्ञानिक आधार पर परखे गए कोरोना से बचाव का जो सर्वश्रेष्ठ टीका है वह देश के हर नागरिक को निशुल्क लगाया जाना चाहिए। प्रवक्ता ने कहा कि कांग्रेस की सरकारों ने कई टीकाकरण अभियान चलाए हैं और बड़ी-बड़ी बीमारियों को मात दी है। पार्टी के पास इसका अच्छा खासा अनुभव है और सरकार चाहिए तो वह लोगों की सुरक्षा के लिए इस संबंध में उससे सलाह मशविरा कर सकती है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *