delhi shahjahanpur border

कृषि कानून के खिलाफ किसानों का आंदोलन 39वें दिन भी जारी है। रविवार को राजस्थान के अलवर जिले के शाहजहांपुर हरियाणा बॉर्डर पर प्रदर्शनकारी किसानों और हरियाणा पुलिस के बीच तनातनी का माहौल हिंसक झड़प में बदल गया।

युवाओं ने बेरिकेड्स तोड़ दिए और जबरन ट्रैक्टर ट्राली हरियाणा सीमा ले गए। हरियाणा पुलिस को हालात को काबू करने के किसानों पर लाठीचार्ज करना पड़ा ने आंसूगैस के गोले भी छोड़े। इस टकराव के बाद हाईवे पर वाहनों का पांच किलोमीटर लंबा जाम लग गया।

किसानों को हरियाणा में धारूहेड़ा के पास रोका गया है। ये सभी किसान दिल्ली में चल रहे आंदोलन को समर्थन देने के लिए रवाना हुए थे। झड़प से पहले किसानों की ओर से आंदोलन शांतिपूर्ण चल रहा था। लेकिन इसी बीच कुछ युवाओं ने एकजुट होकर रणनीति बनाई और हरियाणा सीमा में जबरन बेरिकेड्स को तोड़कर प्रवेश किया।

किसान नेताओं की ओर से आंदोलनकारियों से शांति बनाए रखने की अपील की जा रही है। इस झड़प के चलते कुछ देर राजस्थान-हरियाणा बॉर्डर पर अशांति और अफरा-तफरी फैली रही। हरियाणा पुलिस ने 30-40 किसानों को बेरिकेड्स तोड़ने और राजकीय संपति को नुकसान पहुंचाने के आरोप में हिरासत में लिया है।

नए कृषि कानूनों के खिलाफ पिछले एक महीने से भी अधिक समय से प्रदर्शन कर रहे किसानों की मुश्किलें रातभर हुई बारिश ने बढ़ा दीं हैं। लगातार बारिश होने से आंदोलन स्थलों पर जलजमाव हो गया है। संयुक्त किसान मोर्चा से जुड़े किसान नेता ने कहा कि किसान जिन तंबूओं में रह रहे हैं वह वॉटरप्रूफ हैं लेकिन ये ठंड और जलभराव से उनका बचाव नहीं कर सकते।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *