Bird Flue

नई दिल्ली । केंद्र सरकार बर्ड फ्लू के प्रकोप के मद्देनजर नजर राज्यों को पोल्ट्री फार्मो की जैव-सुरक्षा बढ़ाने के निर्देश दिए हैं। केंद्रीय पशुपालन, मत्स्यपालन और डेयरी मंत्रालय ने रविवार को बताया कि राज्यों व केंद्र शासित प्रदेशों से जलाशयों, पक्षियों के बाजार, चिड़ियाखाना और पोल्ट्री फार्मो की निगरानी बढ़ाने और पोल्ट्री फार्मो की जैव-सुरक्षा कड़ी करने का आग्रह किया गया।

मंत्रालय की ओर से जारी एक बयान में कहा गया कि राज्यों से पक्षियों के इन्फ्लूएंजा यानी बर्ड फ्लू के संबंध में भ्रामक सूचना से दूर रहने और लोगों में जागरूकता फैलाने का भी आग्रह किया गया है।

जानकारी के अनुसार, हरियाणा के पंचकूला जिला स्थित दो पोल्ट्री फार्मों में बर्ड फ्लू की पुष्टि होने के बाद राज्य सरकार ने नौ रैपिड रिस्पांस टीम तैनात कर दी और वहां रोकथाम के उपायों को अमल में लाया जा रहा है।

मंत्रालय ने बताया कि गुजरात के सूरत, और राजस्थान के सिरोही जिला में भी कौव्वा/जंगली पक्षी में बर्ड फ्लू की पुष्टि हुई है। वहीं, हिमाचल प्रदेश के कांगड़ा जिले से फिर 86 कौव्वों और दो बगुलों की असामान्य मौत की रिपोर्ट है। इसके अलावा, जंगली पक्षियों की असामान्य मौत की रिपोर्ट नाहन, बिलासपुर और मंडी से भी मिली है और नमूने निर्धारित प्रयोगशाला में जांच के लिए भेजे गए हैं।

अब तक सात राज्यों में बर्ड फ्लू की पुष्टि हुई है, जिनमें केरल, राजस्थान, मध्यप्रदेश, हिमाचल प्रदेश, हरियाणा और उत्तर प्रदेश शामिल हैं।

दिल्ली और महाराष्ट्र से लिए गए नमूनों की रिपोर्ट अभी तक नहीं आई है। वहीं, छत्तीसगढ़ के बलोद जिला से लिया गया कोई भी नमूना पॉजिटिव नहीं निकला।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *